Share Market में पैसे Invest कैसे करें ?

हैलो दोस्तों नमस्कार आज हम आपको इस आर्टिकल के माध्यम से बताएंगे कि Share Market Kya Hota Hai और Share Market Me Invest Kaise Kare , आज के समय लोग पैसा कमा तो लेते हैं पर उसे सही जगह invest नही कर पाते हैं आप इस आर्टिकल को अंत तक पढ़िएगा, आप Share Market से जुड़ी सभी जानकारी प्राप्त कर लेंगे ।


दोस्तों अधिकतर हम सभी सुनते होंगे कि Share Market Me Invest करो और दो गुना Profit पाओ और आपको बताते चलें कि यहां जितनी तेजी से पैसा आता है,

उतनी ही तेजी से चला भी जाता है Share Market में कुछ भी हो सकता है आपको अगर Share Market Me Invest करना है तो पहले आपको इसके बारे में पूर्ण जानकारी लेनी होगी ।

share market me paise invest kaise kare

Share Market क्या है ?

शेयर मार्केट क्या है हिंदी में इसकी जानकारी आपको प्राप्त होगी आपको बताते चले कि share market में companies अपने shares उपभोक्ताओं को बेचती है और उनको profit तभी होगा जब वह कंपनी को प्रॉफिट होगा ।

Stock Market में Mutual Funds , Debentures ,इसके अलावा और भी बहुत सी Securities को खरीदा और बेचा जाता है , इन्हें Stock Exchange के द्वारा ही ख़रीद व बेच सकते हैं ।

यहां दो मुख्य stock exchange हैं :-

  1. BSE : Bombay Stock Exchange 
  2. NSE : National Stock Exchange

Share Market कैसे काम करता हैं ? 

अगर आपको शेयर मार्केट में इन्वेस्ट करना है तो सबसे पहले आपको यह समझना होगा कि कम्पनी share market में क्यों आती हैं क्योंकि हमें फायदा या नुकसान कंपनी के द्वारा ही होता है।

अगर कंपनी का प्रॉफिट हुआ तो हमें भी प्रॉफिट होगा और कंपनी को नुकसान हुआ तो हमें भी नुकसान होगा ।

कोई भी कंपनी शेयर मार्केट में इसलिए प्रवेश करती है कि उसे अच्छा प्रॉफिट हो , जब उसे कंपनी की Growth के लिए पैसे की आवश्यकता होती है।

तो कंपनी Share Market में शेयर लाती है व बेचती है इसका उसे पैसा मिलता है जिसका वह सदुपयोग करती है ।

आप Share Market Me Invest Kaise Kare इससे पहले आपको इसे समझना बहुत जरूरी है सबसे पहले जो भी company होती है वो अपने shares stock Exchange में लिस्टिंग करवाकर IPO (Initial Public Offering) लाती है और जो shares होते हैं।

उन्हें वह स्वयं के अनुसार मूल्य निर्धारित करती हैं , IPO का Process पूरा हो जाने के बाद Shares मार्केट में आ जाते हैं और इन्हें brokers व Stock Exchange के द्वारा  निवेशकों के माध्यम से खरीदे और बेचे जाते हैं ।

Demat Account क्या होता है ? 

डीमेट एकाउंट वह एकाउंट होता है जिसमे हम अपने पैसे को रख सकते हैं ठीक उसी प्रकार जैसे हम अपने बैंकों में पैसों को सुरक्षित रखते हैं ।

Demat Account Share Market में पैसे लगाने के लिए यूज़ होता है हमारे saving account में जितने जो जमा पैसे होते हैं उन्हें इनमें लगाने होते हैं यहां से आप share market में पैसे लगा सकते हैं और जो भी profit होगा वो हमारे account में आ जायेगा ।

Demat Account का एक pofit यह भी है इसमें जो पैसे हम invest करते हैं उससे related सभी Securities (mutual fund , government securities , shares) इन सभी को electronic form में एक साथ रख सकते हैं ।

Demat Account कैसे खोले ? 

Demat account खोलने के लिए सबसे पहले हमें अपने bank account की KYC करने की need होगी , यह account हमारे सारे funds shares को manage करता है व जो fund आदि हम buy करते हैं उससे related सारी जानकारी प्रदान करता है हम demat account ठीक उसी प्रकार से open कर सकते हैं जैसे हम bank में सामान्य खाता चालू करते हैं ।

Trading Account क्या है ?

बात करें Trading Account की तो इसके माध्यम से हम इसका use करके हमारे shares business में खरीदे और बेचे जा सकते हैं।

आप या तो इसे ब्रोकर के पास भी खुलवा सकते हैं वो आपके एकाउंट को manage कर सकता है , online होने के कारण आप इसे कभी भी देख सकते और शेयर्स खरीद व बेच सकते हैं ।

Demat Account और Trading Account के लिए important Documents :-

इन एकाउंट्स को खोलने के लिए हमारे पास मुख्य रूप से यह documents होने चाहिए 

  • 2 पास-पोर्ट साइज फोटो
  • कैंसिल चेक
  • एड्रेस प्रूफ
  • पैन-कार्ड
  • इनकम प्रूफ

आपको इन सभी डाक्यूमेंट्स की फ़ोटो कॉपी देनी होती है और साथ ही साथ Varification के लिए original भी मांग सकते हैं और यह process होने के बाद एक बार सारे कागज़ देख ले,

और उन्हें अच्छे से पढ़ ले वरीफिकेशन होने के बाद आपका trading account बन जाता है और अब आप Share Market me Trading Kar Sakte Hain ।

Share Market में भाव कैसे change होता है ?

दोस्तों आपको Share Market ki Ganit समझ आने लगी होगी अभी कुछ देर पहले हमने आपको IPO (Initial Public Offering) के बारे में बताया , IPO जब पूरा हो जाता है।

तो Shares का price Market में उसकी Demand और Supply के According Change होता रहता है । अगर Shares खरीदने वालों की गिनती बेचने वालों से ज्यादा है,

तो shares के price बढ़ेंगे और अगर बेचने वालों की गिनती खरीदने वालों से बड़ी हुई है तो उसके Price कम हो जाएंगे ।

Sensex और Nifty क्या है ?

Sensex : Sensex वर्ड की बात करें तो यह sensitive और index वर्ड से बना है यह Bombay Stock Exchange का पॉइंट है ,इसका निर्धारण BSE में जो company Registered होती हैं।

उनके market के कंपनियों के कुल मूल्य के आधार पर किया जाता है इसके भाव (price) रोज़ बदलते हैं यह भारत में सबसे पुराना Share Market में एक है।

हम सरल भाषा मे यह कह सकते हैं कि अगर Sensex बढ़ता है तो BSE में registered company अच्छा प्रदर्शन कर रही और अगर गिरता है तो performance खराब कर रही ।

Nifty : Nifty वर्ड की बात करें तो यह National और fifty वर्ड से बना है यह National Stock Exchange का Point है , इसका निर्धारण NSE में जो कंपनी registerd होती है उनके market में कंपनियों के कुल मूल्य के आधार पर किया जाता है।

आपको बताते चले इसमें भी अगर Nifty बढ़ता है तो NSE में रजिस्टर्ड कम्पनी ने अच्छा प्रदर्शन किया है और अगर NSE में Registered कंपनी ने खराब परफॉरमेंस दी तो इसका मतलब Nifty गिरा होगा ।

Types Of Securities :-

दोस्तों अब बात करते हैं Stock Market या Share Market के कुछ Securities की क्योंकि हममें से ही बहुत से लोगो को यह लगता है की स्टॉक market में केवल shares को ही Trade कर सकते हैं पर ऐसा होता नही है,

Shares के जैसे ही कुछ Securities भी होती है जिनका हम trading में use कर सकते हैं और stock market में trade कर सकते हैं ।

1)  Mutual Funds :- mutual fund की बात करें तो यह हमें Share market में ही invest करने का chance नही देता अपितु और भी जगह invest करने का chance देता है हम अगर Mutual Fund में invest करते हैं।

तो इसमें इन्वेस्ट किया गया पैसा Government और private कंपनियों के Bond में Invest किया जाता है इसलिए mutual fund में bank के जैसे invest करने की आसानी होती है और सुविधा भी अच्छी मिल जाती है ।

यहां पर इन्वेस्ट किये गए रुपयों को कैसे आगे बढ़ाए तो mutual fund के जो सलाहकार , मैनेजर अपने अनुभव से सही information देते हैं और एक profit यह भी होता है।

rofessional fund manager सभी इकट्ठा की धनराशि को अपने according अच्छे से और भी जगह invest करने की सलाह देते और customer का profit करवाते हैं इसके बदले वे कुछ फी चार्ज करते हैं ।

2) Bond :- Bond एक प्रकार से loan के जैसा होता है जब किसी company को रुपयों की जरूरत होती है तो वो loan ले सकते हैं या फिर वो पब्लिक के माध्यम से लोन ले सकते हैं।

एक investor के तौर पर और और पब्लिक को bond isaue करते हैं , और इन्हें पैसे वापस एक फिक्स डेट पर करना होता है जो कंपनियां होती हैं वे बांड पर fix rate से interest pay करती हैं,

और जब बांड की डेट पूरी हो जाती है तो बांड की जगह repayment करती हैं । कंपनी के माध्यम से fix rate पर टाइम से interest दिया जाता है और जब बांड का time पूरा हो जाये तो repayment कर दिया जाता है ।

SIP :-  Sip को Systematic Investment plan कहते हैं ,Sip Mutual fund में invest करने का एक ही उपाय है इसमें एक fix राशि को इन्वेस्ट किया जाता है ,

जिन लोगों को share market के विषय मे ज्यादा Knowledge नही है और market में इसके तौर तरीके से निल हैं उनके लिए SIP के माध्यम से invest करना बहुत ही अच्छा तरीका हो सकता है।

इसके एक फिक्स समय सीमा के अनुसार निश्चित राशि का निवेश किया जाता है इसके ज़रिए ही Mutual fund , gold fund ETF , Share Market me Invest Kar Sakte Hai ।

तो दोस्तों उम्मीद करते हैं आपको इस ब्लॉग के माध्यम से share market me Invest Kaise Kare के विषय में हेल्प मिली होगी आप इसे अपने दोस्तों के साथ शेयर करके उनकी भी मदद कर सकते है,

और साथ ही साथ आप इसे जरूरतमंदों के साथ शेयर कर उनकी भी मदद कर सकते हैं । अगर आपका कोई सवाल हो तो आप comment box में कमेंट के माध्यम से पूछ सकते हैं ।

Read More :-

7 thoughts on “Share Market में पैसे Invest कैसे करें ?”

  1. Mai Mutual Fund Me Invest Karne Ja raha hu, Adsense Se Is Month Ka Earning Aaya Hain, Bas Usi Ka Sahi Jagah Use Karne Jaa Raha Hu…!! Koi Suggestions Ho To Please Jarur Bataiyega…

    Reply
  2. अकाउंट जन धन वाला है इसलिए upstok मे अकाउंट नहीं खुल रहा क्या। मुझे नया खाता खुलवाना चाहिए

    Reply
  3. Demat अकाउंट खुलवाने के लिए किसी प्रकार का कोई शुल्क भी देना होता है या फिर इसे हम मुफ्त में खुलवा सकते है ?

    HDFC जैसे बैंक डायरेक्ट इन्वेस्टमेंट के आप्शन भी प्रोवाइड करते है. तो क्या मुझे किसी थर्ड पार्टी के जरिये निवेश करना चाहिए या डायरेक्ट इन्वेस्टमेंट बेहतर होगा ?

    Reply

Leave a Comment